खेलो में राजनीति या राजनीति में खेल ?? बताओ गुरु और

Navjot Singh Sidhu - former cricketer turned entertainer turned politician
Navjot Singh Sidhu – former cricketer turned entertainer turned politician

Navjot Singh Sidhu  ने हाल ही में Punjab में दोबारा कुर्सी जमाई और यह तो सभी जानते है कि खेलों में राजनीति है।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड पर लोढा कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने में सबसे बड़ी रूकावट यही तो थी।

सालो से बोर्ड के बड़े- बड़े अधिकारी वे थे जो किसी न किसी तरह राजनीति से जुड़े थे। यह सिलसिला हाल के सालों में एसके वानखेड़े से लेकर एनकेपी साल्वे तक चला और आपको यह जानकर हैरानी होगी कि प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी क्रिकेट एसोसिएशन  (Indian Cricket association) के अध्यक्ष थे।
उन्होंने कुर्सी छोड़ी तो भारतीय जनता पार्टी (BJP) के मौजूदा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) बन गए गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन (Gujrat cricket association) के नए अध्यक्ष।

इस साल गुजरात रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) को जीता और यह मानने वालो की कमी नहीं की उस कामयाबी में भी अमित शाह की सूझबूझ का बड़ा योगदान था।

शरद पवार हो या लालू प्रसाद यादव – ये भी क्रिकेट से पीछे नहीं रहे।

(Arun Jaitely) अरुण जेटली केंद्र में मंत्री बनने से पहले डीडीसीए (DDCA- Delhi & District Association) में अध्यक्ष रहे कई साल और अगर भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार न बनती तो उनका क्रिकेट बोर्ड ( Indian Cricket Board) का अध्यक्ष बनना तय था।

मौजूदा सांसद अनुराग ठाकुर न सिर्फ हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (Himachal Pradesh cricket association) के अध्यक्ष रहे , वे तो भारतीय क्रिकेट बोर्ड (Indian Cricket Board) के भी अध्यक्ष बने।
ये कुछ वे नाम है जो राजनीति के हैं लेकिन अपने उस प्रभाव को cricket में आजमाया।

इसी तरह कुछ नाम ऐसे हैं जो हैं तो cricket के लेकिन अपनी उस मशहूरी की बदौलत राजनीति में आए।
ये चर्चा इस समय इसलिए हो रही है ज्योकि पिछले दिनों चार विधानसभा के चुनाव हुए और उनमे भी खेलो और खास तोर पर क्रिकेट को बराबर की हिस्सेदारी मिली।

(Manipur) मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है और नोंगथोंबरन बिरेन सिंह (Nongthombam Biren Singh) मुख्यमंत्री (chief minister) बने है।

CM of Manipur
Nongthombam Biren Singh is an Indian politician and former footballer and journalist. He is the current Chief Minister of Manipur.

वे चुनाव जीते और इसलिए नेता तो हो गए लेकिन उनका एक और परिचय यह भी है कि वे अपने समय में फुटबॉल के बहुत अच्छे खिलाड़ी रहे और एक बार उनके साथ उनकी टीम ने देश का सबसे मशहूर फुटबाल टूर्नामेंट डुरंड कप (Durand Cup) जीता था।
1981 में डूरंड कप (Durand Cup) को बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स की टीम ने जीता था और उस समय बिरेन सिंह बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स में नौकरी करते थे और अपनी फुटबॉल की बदौलत उनकी टीम में थे।

क्रिकेटरों की बात हो तो इस संधर्ब में नवजोत सिंह सिधु (Navjot Singh Sidhu) का नाम कैसे नहीं आएगा ?

भारतीय जनता पार्टी (BJP) द्वारा संसद के पिछले चुनाव में अमृतसर से टिकेट न दिए जाने के बाद पार्टी के साथ उनके सम्बन्ध में दरार आई थी जो लगातार बढ़ती गई।

Navjot Singh Sidhu Joins Congress
Navjot Singh Sidhu joins Congress

पंजाब विधानसभा के चुनाव से पहले न सिर्फ उन्होंने, उनकी पत्नी और विधायक नवजोत कौर (navjot kaur) ने भी भारतीय जनता पार्टी को छोड़ा और दोनों कांग्रेस में शामिल हो गए।

Navjot Singh Sidhu नवजोत सिंह सिधु ने संसद को छोड़कर विधानसभा को क्यों चुना वे तो वो ही बता सकते है लेकिन एक क्रिकेटर और कपिल शर्मा के मशहूर कॉमेडी शो (The Kapil Sharma Show) की बदौलत मिली लोकप्रियता का उन्होंने खूब फायदा उठाया।
अमृतसर ईस्ट सीट से उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राजेश हनी को 42661 वोट से हराया।

इतना ही नहीं , जब मुख्यमंत्री के तौर पर अमरिंदर सिंह ने शपथ ली तो उन्होंने Navjot singh sidhu  को शपत दिलाई।

Amrinder Singh and Navjot Singh Sidhu
Amrinder Singh and Navjot Singh Sidhu

उन्हें जो विभाग सौंपे है वे ऐसे नहीं है कि उन्हें हर समय ही काम में लगा रहना होगा और Navjot singh Sidhu ने कहा कि वे कपिल शर्मा कॉमेडी शो (The Kapil Sharma Show) में पहले की तरह शामिल होते रहेंगे।

ऐसी खबरें है की Sidhu को कॉमेडी शो से रोकने की कोशिश हो रही है।

Cricketer turned television personality turned politician Navjot Singh Sidhu का कहना है की ” इससे किसी को मतलब नहीं होना चाहिए की वो रात को क्या करते है।” साथ में कहा कि वे अपनी ज़िम्मेदारिया बखूबी निभाएंगे

इन विधानसभा चुनाव (elections) में एक और पुराने टेस्ट क्रिकेटर (test cricketer) को जीत मिली।

ये भारत के भूतपूर्व सलामी बल्लेबाज़ चेतन चौहान(Chetan chauhan) है।

वे उत्तर प्रदेश में अमरोहा (Amroha) से सांसद रहे है। एक हार के बाद उन्होंने कुछ देर के लिए राजनीति को छोड़ा लेकिन बदलते हालात में वे फिर से राजनीति में आए और अमरोहा से ही इस बार चुनाव जीते।

उन्होंने नोगांवा सदत विधानसभा सीट को जीता।

Chetan Chauhan
Chetan Chauhan

उन्होंने 97030 वोट मिले और उन्होंने समाजवादी पार्टी के निकटम प्रतिद्वदी जावेद अज़बॉस को 20648 वोट से हराया।

इन विधानसभा चुनाव में खेलो का प्रतिनिधित्व भारत के भूतपूर्व हॉकी कप्तान (Hockey captain- Pargat Singh) परगट सिंह ने भी किया।

उन्होंने जालंधर कैंट सीट पर फिर से कामयाबी हासिल की और अपने निकटतम प्रतिद्वंदी शिरोमणि अकाली दल के सरबजीत सिंह मकड़ को 29124 वोट से हराया।

इसी सीट से 2012 के विधानसभा चुनाव में परगट सिंह शिरोमणि अकाली दल से चुनाव लड़े थे और जीते थे।

इस बार नवजोत सिंह सिधु (Navjot Singh Sidhu) के साथ मिले और उन्ही की तरह पार्टी बदल  कांग्रेस में शामिल हो गए थे।
इस तरह अलग अलग विधानसभा में खेलों (sports) का प्रतिनिधत्व खूब नज़र आएगा और मैदान के यह माहिर वास्तव में राजनीति में क्या करेंगे यह तो आने वाला समय बताएगा।

बहरहाल जो नवजोत सिधु (Navjot sidhu) को और उनके काम के तरीके को जानते है ,उन्हें बहुत अच्छी तरह मालूम है कि सिधु (Sidhu) को खबरों में रहना खूब आता है। इसलिए उन्होंने भले चुनाव पंजाब (Punjab elections) से लड़ा लेकिन चुनाव के लिए उन्हें पंजाब के बहार भी खूब बुलाया जा रहा था।

Indian politics भारतीय राजनीति में cricketers की दखल का यह कोई नई मिसाल नहीं है।

एक समय था जब इसे बड़ी मुश्किल चुनोती माना गया और इसलिए मंसूर अली खां पटौदी (Pataudi) और सलीम दुर्रानी (Salim Durani) जैसे अपने समय के मशहूर क्रिकेटर इसमें कामयाब नहीं हो पाए थे।

बाद में हालात बदले और कीर्ति आज़ाद (Kirti Azad) एवं मोहम्मद अज़हरुदीन (Mohd. Azzarudin) भी चुनाव जीत कर विधानसभा और संसद में पहुंचे।

अगर मशहूर Bollywood celeberities राजनीति में आ सकते है तो cricketers क्यों नहीं ?

यहाँ तक कि Sachin Tendulkar को राष्ट्रपति ने राज्यसभा की सदस्यता के लिए मनोनीत किया।

ऐसा सिर्फ India में ही नहीं है।

Imran Khan (Politician) cricket से रिटायर हुए तो उन्होंने तहरीक -ए -इंसाफ पार्टी बनाई।

एक समय वे Imran Khan famous in politics। लेकिन 2013 के चुनाव में उनकी पार्टी को अपेक्षाकृत बेहतर कामयाबी मिली।

Imran Khan Pakistani cricketer turned politician
Imran Khan – Former Pakistani cricketer turned politician

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री (Prime minister of Pakistan) नवाज़ शरीफ (Nawaz Sharif) भी प्रथम श्रेड़ी cricket खेले है।

उन्होंने 1973 -74 में रेलवे के लिए एक मैच खेला था।

Srilanka में अर्जुन राणातुंगा (Arjun Ranatunga)और सनथ जयसूर्या (Sanath Jaisurya) न सिर्फ संसद में पहुंचे , मंत्री भी बने।

West Indies में फ्रैंक वारेल से लेकर वेस हॉल तक कई famous cricketers चुनाव जीते।

इस समय उनके मशहूर fast bowler जो गार्नर राजनीति में नाम कमा रहे है।
भूतपूर्व British PM जॉन मेजर (John Major)और भूतपूर्व Australian PM बॉब हवेक (Bob Havel) बहुत अच्छी क्रिकेट खेलते थे।

ब्रिटेन को तो एक प्रधानमंत्री ऐसा  है जिसने प्रथमश्रेणी क्रिकेट खेली और ये एलक डगलस (Alec Douglas) होम थे।

Alec Douglas Home former UK PM
Alec Douglas Home- former UK PM

Navjot Sidhu और Chetan Chauhan जैसे cricketers इस परंपरा को आगे बड़ा रहे है

तो भविष्य में भारत के भूतपूर्व अंडर 19 कप्तान रंजीब बिस्वाल (Ranjib Biswal) और लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव (Tejasvi Yadav) का भी हो सकता है।

Tejasvi Yadav राजनीति में आने से पहले क्रिकेट में कोशिश करते रहे है और एक बार IPL कॉन्ट्रैक्ट मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *